HomeUncategorizedसाप्ताहिक क्राइम मीटिंग में सभी थाना प्रभारी को वर्षांत तक अपराध व...

साप्ताहिक क्राइम मीटिंग में सभी थाना प्रभारी को वर्षांत तक अपराध व शिकायत के निराकरण हेतु एजेण्डा बताकर निर्देशित किया गया

सप्ताह और महीने में थानों का प्रदर्शन: अपराध, मर्ग, गुमइसान शिकायत के निराकरण हेतु कार्ययोजना तैयार परधानों के कार्यों में गुणवत्ता लाने चावत प्रति सप्ताह अनुविभाग के सभी थाना प्रभारी एवं रीडर की मीटिंग की जा रही है। मीटिंग में दिए गए निर्देश एवं कार्ययोजना अनुरूप थाना एवं विवेचकों के कार्य दिखने लगा है। सभी थाना प्रभारी अपने अधीनस्थों से समन्वय बनाकर अच्छा कार्य कर रहे हैं जिसका परिणाम सामने आ रहा है। थानों में बेहतर कार्य होने से एक सप्ताह में 139 प्रकरण में चालान पेश हुआ है और 108 प्रकरण में चालान तैयार किया गया है। 24 प्रकरण में खत्म /खारी चाक किया है। 16 गिरफ्तारी / स्थाई वारंट तामील किया गया। 31 शिकायतों का निकाल किया गया है 08 गुमशुदा को दस्तयाब किया गया। थानों में अच्छा कार्य करने वाले विवेचकों को उनका मनोबल बढ़ाने हेतु पुरुष्कृत कराया जा रहा है और कार्य के प्रति लापरवाही बरतने वालों को चेतावनी देकर सचेत किया गया है।

थानों के TI को निर्देश: प्रतिदिन जून एप के माध्यम से थाना प्रभारियों से अनलाईन मीटिंग की जाकर प्रतिदिन की जानकारी के संबंध में चर्चा कर निर्देशित किया जा रहा है। साप्ताहिक क्राइम मीटिंग में सभी थाना प्रभारी को वर्षात तक अपराध निकाल व शिकायत के निराकरण हेतु एजेण्डा बताकर निर्देशित किया गया। सभी थाना प्रभारी को वर्षात में संचित अपराध की संख्या बताकर अनुविभाग में कुल 275 अपगम लवित रहने बताया गया जो अभी 521 अपराध विवेचना में और 255 प्रकरण में चालान तैयार सहित कुल 776 अपराध लंबित है। वर्ष के अंत तक ति अपराध को डिजिट में या उससे कम संख्या में लाने, जिन विवेचको के पास चालान तैयार की संख्या अधिक है। उन्हें 05 की संख्या में लाने, सामान्य अपराध जिसका निकाल हो सकता है उसकी संख्या विवेचना के शाम 05 में होने चोरी के प्रकरण में खात्मा करने, प्रतिदिन क्राईम ट्रैकर को देखने की आदत डालने, पुराने अपराध की संख्या 184 है। उसमें से 50 कम कर 134 तक लाने एवं पूर्व मीटिंग में दिए गए निर्देशानुसार कार्य करने निर्देशित किया गया।

विवेचकों को निर्देश – अनुविभाग के थाना के विषयों को निर्देशित किया गया है कि जिस विवेधक के पास सामान्य धारा के लंबित अपराय व चालान अधिक संख्या में लंबित है। वह विवेचक 05 या उससे कम संख्या में लंबित रखें। जिन विधयों के पास अपराध व चालान की संख्या 15 या उससे अधिक है। यह प्रतिदिन अपने कार्य की जानकारी मस एप के माध्यम से देंगे जो विवेचक अच्छा कार्य करेगा उसे पुरुष्कृत कराया जायेगा और जो कार्य में सचि नहीं लेगा या कर्तव्य के प्रति लापरवाही बरतेगा उसे दण्डित कराया जायेगा।
वारंट तामीली अभियान :- थाना प्रभारी छावनी व खुर्सीपार के वारंट तामीली का स्तर टीक बनाए रखे हैं जिससे इस सप्ताह में 15 वारंट तामील हुआ है।

प्रशंसा:थाना खुर्सीपार के उप निरी. महेन्द्र जय सिंह द्वारा एक सप्ताह में 09 प्रकरण माननीय न्यायालय में पेश और 12 प्रकरण में चालान तैयार किया गया है। थाना छावनी के सहा उप निरी. डेरन सिंह थाना कुम्हारी के सहा. उप निरी. सिंह सोनवानी द्वारा 07-07 चालान न्यायालय में पेश कर अच कार्य किए हैं। जिससे इनकी प्रशंसा की जाकर पुलिस अधीक्षक से पुरुस्कृत कराया जाएगा।

चेतावनी: थाने का कार्य नहीं करने वाले या रुचि नहीं लेने वाले या पार्य के प्रति लापरवाही बरतने वाले विवेचकों को चेतावनी देकर सचेत किया गया।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments