Homeशिक्षाशासकीय पूर्व माध्यमिक शाला परसदा में हुआ संकुल स्तरीय शैक्षिक बालमेला का...

शासकीय पूर्व माध्यमिक शाला परसदा में हुआ संकुल स्तरीय शैक्षिक बालमेला का आयोजन

” ” फरा , चौंसेला , चीला , गुलगुला सहित विभिन्न व्यंजनों से सजा स्टाल , टीएलएम की लगी प्रदर्शनी , बच्चों ने दी सांस्कृतिक प्रस्तुति “ पाटन=== संकुल स्त्रोत केंद्र परसदा (कुम्हारी) के अधीनस्थ शासकीय उच्च प्राथमिक शाला परसदा(कुम्हारी ) में संकुल स्तरीय शैक्षिक बालमेला का आयोजन पार्षद श्री यूजेन्द्र साहू , पार्षद श्रीमती सती यादव , सहायक विकासखण्ड शिक्षा अधिकारी श्रीमती आकांक्षा अग्रवाल , संकुल प्रभारी एवम प्राचार्य श्रीमती स्नेहलता तिवारी , शाला प्रबन्धन विकास समिति के अध्यक्ष श्री सालिक राम दुबे , शाला प्रबन्धन समिति के अध्यक्ष श्री डिकेन्द्र साहू , सांसद प्रतिनिधि श्री महावीर साहू , शाला प्रबन्धन समिति के उपाध्यक्ष श्री करन साहू के आतिथ्य में किया गया । शैक्षिक बालमेला का शुभारंभ मां शारदे की प्रतिमा में पूजा अर्चना एवम छत्तीसगढ़ महतारी के तैलचित्र में पूजा अर्चना , मां शारदे की वंदना , राज्य गीत ” अरपा पैरी के धार महानदी हे अपार ” के साथ हुआ , अतिथियों के सम्मान में स्वागत गीत प्रस्तुत किया गया । पश्चात स्वागत भाषण एवम प्रतिवेदन संकुल शैक्षिक समन्वयक ललित कुमार बिजौरा द्वारा प्रस्तुत किया गया , ललित कुमार बिजौरा ने अतिथियों का स्वागत करते हुए कहा कि संकुल स्तरीय शैक्षिक बालमेला का उद्देश्य बच्चों के अंतर्निहित प्रतिभा को सामने लाना एवम स्किल डेवलपमेंट करना है । उन्होंने बताया कि प्रत्येक बच्चे में प्रतिभा होती है उन्हें अवसर प्रदान करने से उनके अंदर छुपी प्रतिभा परिलक्षित होती है । बच्चों के संज्ञानात्मक एवम सह संज्ञानात्मक विकास के लिए यह आयोजन किया जा रहा है । शैक्षिक बालमेला में शिक्षकों के मार्गदर्शन में बच्चों द्वारा छत्तीसगढ़ के पारंपरिक व्यंजन फरा, चौसेला , गुलगुला भजिया , चीला , सहित भेल , गुपचुप , समोसा , मिर्ची भजिया , प्याजी , ढोकला , एप्पे , ब्रेड पकोड़ा , गुलाब जामुन , चाय , खस्ता का स्टाल लगाया गया जिसका अतिथियों द्वारा अवलोकन किया गया एवम बच्चों द्वारा बनाये गए व्यंजनो का अतिथियों एवं ग्रामवासियों ने खूब लुप्त उठाया । इसके अलावा कबाड़ से जुगाड़ एफ एल एन — टी एल एम प्रदर्शनी लगाया गया जिसके अंतर्गत — विलोम चिन्ह की घड़ी ,पूर्ववर्ती , परवर्ती संख्या घड़ी का प्रदर्शन , रेशम के कीड़े का जीवन चक्र , कपड़ों के प्रकार को पोस्टर के माध्यम से प्रदर्शन , स्वनिर्मित टेलीस्कोप का प्रदर्शन , गणितीय संक्रियाओं का प्रदर्शन , पर्यायवाची , विलोम शब्द , गिनती , अंक पहचान का खेल , स्वास्थ्य चार्ट , भाज्य , अभाज्य संख्या की पहचान , सौर मंडल का प्रदर्शन , वजन मापन तथा पत्थर संकलन का प्रदर्शन श्री परस राम साहू सेवानिवृत्त प्रधानपाठक द्वारा किया गया जिसका अवलोकन भी अतिथियों द्वारा किया गया तथा उन्होंने लर्निंग आउटकम पर आधारित टीएलएम की खूब प्रशंसा की । शासकीय प्राथमिक शाला परसदा , शासकीय पूर्व माध्यमिक शाला परसदा , शासकीय प्राथमिक शाला मगरघटा , शासकीय पूर्व माध्यमिक शाला मगरघटा , शासकीय हाई स्कूल परसदा के छात्र–छात्राओं द्वारा सुआ नृत्य , करमा , बारह मासी , सहित मनमोहक छत्तीसगढ़ी नृत्य प्रस्तुत किया गया जिसे खूब सराहा गया । मौखिक व स्पीड गणित , स्पीड रिडिंग , श्रुतलेखन एवम प्रश्नोत्तरी प्रतियोगिता का भी आयोजन किया गया तथा त्वरित जवाब देने पर पुरस्कृत भी किया गया । इस सभी आयोजन में संकुल स्त्रोत केंद्र परसदा (कुम्हारी) के अधीनस्थ शासकीय प्राथमिक शाला परसदा , शासकीय पूर्व माध्यमिक शाला परसदा , शासकीय हाई स्कूल परसदा , शासकीय प्राथमिक शाला मगरघटा , शासकीय पूर्व माध्यमिक शाला मगरघटा के प्रतिभागी छात्र–छात्राओं ने अपनी सहभागिता दी । सभी प्रतिभागी बच्चों को प्रशस्ति पत्र से सम्मानित किया गया । इस अवसर पर सहायक विकासखण्ड शिक्षा अधिकारी श्रीमती आकांक्षा अग्रवाल ने कहा कि शैक्षिक बालमेला के माध्यम से बच्चों के प्रतिभा को सामने लाने का अवसर मिलता है बच्चों के द्वारा बनाया गया व्यंजन एवम टीएलएम तथा सांस्कृतिक प्रस्तुति बहुत ही सराहनीय है उन्होंने संकुल शैक्षिक समन्वयक , संकुल प्रभारी सहित समस्त संस्था प्रमुख एवम शिक्षकों की खूब प्रशंसा की । संकुल प्रभारी एवम प्राचार्य श्रीमती स्नेहलता तिवारी ने शैक्षिक बालमेला की सराहना करते हुए कहा कि बच्चों की पढ़ाई के साथ साथ उनके कौशल विकास भी आवश्यक है ऐसे आयोजन से उनकी प्रतिभा सामने आती है तथा सीखने को मिलता है । पार्षद श्री यूजेन्द्र साहू ने अपने उदबोधन में कहा कि शिक्षकों के मार्गदर्शन में बच्चों द्वारा बनाये गए व्यंजन बहुत ही स्वादिष्ट है । बच्चे ऐसे आयोजन के माध्यम से एक दूसरे से सीखते हैं । सीखने सीखाने को सरल बनाने टीएलएम का प्रदर्शन बहुत ही अनुकरणीय है । सांस्कृतिक प्रस्तुति की भी सराहना की । पार्षद श्रीमती सती यादव , श्री कैलाश यादव , महेंद्र वर्मा ने भी आयोजन की खूब सराहना की । कार्यक्रम का सफल संचालन शिक्षक मोहित कुमार शर्मा ने किया , आभार प्रदर्शन प्रधानपाठक सत्येंद्र कुमार यादव ने किया । इस अवसर पर अतिथियों का सम्मान प्रतीक चिन्ह द्वारा किया गया । पदोन्नत प्रधानपाठक , स्थान्तरित एवम पदांकित शिक्षकों का भी सम्मान किया गया । शैक्षिक बालमेला में प्रमुख रूप से श्री पी.एल.देवांगन , श्री पी.के .व्यास , संकुल शैक्षिक समन्वयक श्री जैनेंद्र गंजीर , श्री संतोष देवांगन , श्री करन साहू , श्री सत्येंद्र कुमार यदु , श्री मोहित कुमार शर्मा , श्री कौशल प्रसाद चौबे , श्री नरेश यादव , श्री पवन कुमार साहू , संकुल समन्वयक श्री धरम कुमार यादव , श्री जैन बंधे , श्री अखिल सिंह , श्री प्रदीप चन्द्र , श्रीमती उमेश्वरी वर्मा , श्रीमती पूर्णिमा यादव , श्री सुशील साहू , श्रीमती सुजाता मिश्रा , श्रीमती अंजू वर्मा , श्री के.पी.ठाकुर , श्री जयंत वर्मा , श्री दुष्यंत वर्मा , श्रीमती मीना सोनवानी , श्रीमती लीना बघेल , श्री कोमल सिंह ठाकुर , श्रीमती एम.एस खलखो , श्री कौशल कुमार शुक्ला , श्रीमती मेनका ठाकुर , छाया साहू , श्रीमती दुलेश्वरी साहू , त्रिलोचन साहू , तुलेश्वर बंजारे , बुधन साहू , राजेश साहू , शाला प्रबन्धन समिति के सदस्य गण , पालक गण ग्राम विकास समिति के सदस्य गण , आंगनबाड़ी कार्यकर्ता , सहायिका , रसोइया , स्वीपर सहित प्रतिभागी छात्र-छात्राएं– चांदनी , उर्वशी , तुलसी तथा प्राथमिक , पूर्व माध्यमिक हाई स्कूल के छात्र–छात्राएं उपस्थित रहे ।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments