छग पिछड़ा वर्ग कल्याण संघ दलगत राजनीति से ऊपर अपने हक की लड़ाई लड़ रही है-ओमप्रकाश साहू

कांकेर। छत्तीसगढ़ पिछड़ा वर्ग कल्याण संघ के बैनर तले कांकेर जिले के आमाबेड़ा उप तहसील में 92 गाँवो की संयुक्त सभा आयोजित कर ओबीसी वर्ग के आरक्षण, जातिजनगणना,छात्रावास, शिक्षण संस्थानों के विषयक पर चर्चा रखी गयी। इस सभा मे मुख्यअतिथि के रूप में प्रदेशाध्यक्ष ओमप्रकाश साहू,महासचिव भागवत वैष्णव,कोषाध्यक्ष गंगाराम बघेल,जिलाध्यक्ष सुरेश पटेल,युवप्रकोष्ट से देवकरण जैन,नरेश नाग,केंद्रीय सदस्य हरिश्चंद्र निषाद,कर्मचारी प्रकोष्ठ से राजेश यादव साथ ही स्थानीय वरिष्ठ कार्यकर्ता व विजय साहू,युवराज साहू,गयाराम जैन,हरिराम नेगी,मधेस्वर जैन व समाज प्रमुख आदि सहित सैकड़ों की संख्या में लोग शामिल हुवे। प्रदेशाध्यक्ष के निर्देशानुसार आमाबेड़ा क्षेत्र के लिए पदाधिकारीयों की नियुक्ति भी संघ के द्वारा की गई।
सभी पदाधिकारियों के द्वारा अपने उद्बोधन में संगठन को दलगत राजनीतिक पार्टीयों से दूर रखने की हिदायत भी दी गयी क्योंकि पदयात्रा रायपुर के बाद संगठन को कुछ राजनैतिक पक्षकारों द्वारा बदनाम कर और अपने पार्टीगत स्वार्थ के चलते ईस्तेमाल करने की कोशिश की गई थी,लेकिन दुबारा ऐसे लोगों के बहकावे में ना आने पर जोर दिया गया,
ओमप्रकाश साहू जी ने अपने उद्बोधन में स्पष्ट रूप से ओबीसी समाज को विश्वास के साथ भरोषा दिलाया कि यह संगठन पदयात्रा के बाद से लगातार पूरे प्रदेश में सँगठित होकर अपनी लड़ाई को राजनीतिक स्तर,विभागीय स्तर,न्यायालयों में जारी रखा है और छोटे स्तरों की मांगों पर जीत हासिल भी कर लिया है व उन लोगो के बहकावे में न आने की अपील किया जो संगठन को टूट गया है जैसे बेफिजूल बाते कहते हैं।
संगठन कल और आज दिनप्रतिदिन अपने हकों के लिये संघर्षरत है यह बस्तर क्षेत्र के लोगो ने पूरे प्रदेश को जिस सोच और विचार धारा को लेकर समाज को आगे बढ़ा रहे हैं निश्चित ही परिणाम सकारात्मक आएगा।
अपने आगे के उद्बोधन में उन्होंने छत्तीसगढ़ कहा कि 32 जिलों में ओबीसी छात्रावास बनाये जाने की मांग शुक्रवार को सीएम निवास की बैठक में प्रदेश संरक्षक लीलाराम साहू के द्वारा रखी गयी थी। जिस पर मुख्यमंत्री द्वारा तत्काल 32 जिलों में हॉस्टल बनवाने की घोषणा किया गया। जिसके लिये प्रदेशाध्यक्ष ओमप्रकाश साहू ने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को सभा के माध्यम से धन्यवाद ज्ञापित किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!