सरकार मछुआरे के आर्थक विकास की दिशा में कार्य कर रही कृषि के दर्जा देने के साथ नवीन मछली नीति निर्धारण किया जा रहा है —-एम आर निषाद

छत्तीसगढ़ मछुआ कल्याण बोर्ड के तत्वधान में जिला गरियाबंद मछली विभाग की समीक्षा बैठक को कृषि विभाग के सभा के भवन में एम आर निषाद अध्यक्ष मछुआ कल्याण बोर्ड छत्तीसगढ़ शासन कैबिनेट मंत्री का दर्जा प्राप्त विशेष अतिथि डायरेक्टर दिनेश फुटान, रामनारायण आदित्य एवं मत्स्य महासंघ के डायरेक्टर समलू निषाद की उपस्थिति में संपन्न हुआ। मछुआ कल्याण बोर्ड के अध्यक्ष ने समीक्षा के दौरान कहा कि नील क्रांति योजना के अंतर्गत नवीन तालाब निर्माण कर इसका लाभ मछुआरों को लेना चाहिए परंतु मछुआरे इसका लाभ नहीं ले रहे हैं क्षेत्र में स्वयं की जमीन पर मछली पालन हेतु यहां के किसान आगे आ रहे हैं जिसका त्वरित कारवाही कर तलाब बनाने का कार्य किया जा रहा है श्री निषाद जी ने मछुआरों से अनुरोध किया और उदाहरण देकर बताया कि यहां के कृषक श्री बालचंद ग्राम कुम्ही ने 1 हेक्टेयर क्षेत्र में तालाब निर्माण कर 8.50 लाख ₹ की आमदनी प्राप्त किया है।श्री परमेश्वर ग्राम बरेली निवासी ₹50 हजार रुपए आमदनी होती थी मछली पालन विभाग के मार्गदर्शन से प्रेरित होकर 1 हेक्टेयर क्षेत्र में तालाब निर्माण कार्य कर उसमें पंगेशियस सूची, मोनोसेक्स तिलापिया, मेजर कार्प मछली का पालन किया गया जिसमें मात्र 7 महीने में 5 लाख की आमदनी प्राप्त किया। इसी प्रकार श्रीमती लक्ष्मी बाई निवासी किरवई नील क्रांति योजना के अंतर्गत नवीन तालाब निर्माण के तहत 1.500 हेक्टेयर क्षेत्र का में तालाब निर्माण कर तिलापिया मछली एवं पंगेशियस सूची का पालन किया। मात्र 9 महीने में 10 लाख रुपए की आमदनी प्राप्त किया। हमारे मछुआरे साथी भी यह लाभ प्राप्त कर सकते हैं सिर्फ शासकीय तालाब तक ही सीमित ना रहे फसल के अपेक्षा मछली पालन में अधिक आय है सभी मछुआरों को अपनाना चाहिए साथी ही सभी अधिकारियों को निर्देशित किया यहां के मछुआरों को किसी भी प्रकार की समस्या नहीं होनी चाहिए जहाँ जहाँ जल क्षेत्र अधिक है वहां मछुआरों की नई समिति का पंजीयन कर मछुआरों को लाभ पहुचाए समीक्षा बैठक में मछली विभाग के सहायक संचालक मधु खा खा ने बताया की पूर्व दौरा में प्राप्त सभी आवेदन का निराकरण कर दिया गया है।
प्राप्त आवेदनों को जिला पंचायत के सभी जनपद सीओ के उपस्थिति में त्वरित निराकरण किया गया विभाग को निर्देशित किया है जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी के साथ मिलकर मछुआरों की समस्याओं का निराकरण करें क्योंकि दोनों एक दूसरे के पूरक है मछली विभाग के अधीनस्थ नवा तालाब में शहर का गंदा पानी के साथ कचड़ा ,मलमा आने से दूषित होकर पटने के कगार पर है गरियाबंद कलेक्टर से चर्चा कर सरोवर धरोहर के अंतगर्त निराकरण कर शहर के लिए आकर्षण का केंद्र बनाया जाए कलेक्टर महोदय ने आश्वासन दिया की इसका निराकरण जल्द किया जाएगा इस समस्या का निवारण करने के लिए ब्लॉक कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष मो हाफिज ने संज्ञान में लाकर ज्ञापन सौंपा था जिले के सभी मछुआ सहकारी समिति के अध्यक्ष गण मछुआ महासंघ के पदाधिकारी गण एवं मछुआ कांग्रेस के पदाधिकारी गण उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!