छुरा ब्लॉक में चहेतों को संकुल समन्वयक बनाने नियमों को तोड़ मरोड़ कर पहुंचाया जा रहा है फायदा उक्त मामले में कलेक्टर और विधायक से शिकायत

रेवेन्द दीक्षित….

छुरा।ब्लॉक कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष राजीव ठाकुर ने अभी हाल ही में छुरा विकासखंड अंतर्गत संकुल समन्वयकों की चयन में हो रहे गड़बड़ी के प्रति संबंधित शिक्षा विभाग के कुछ संलिप्त अधिकारियों पर जमकर नाराजगी जाहिर करते हुए गड़बड़ी ठीक करने को कहा गया है अन्यथा आंदोलन हेतु बाध्य होंगे । छुरा ब्लाक अंतर्गत कुल 35 संकुल है जिसमें से 20 पुराने एवं 15 नए संकुल है, जिस पर संकुल समन्वयक की चयन होना है।
ठाकुर नेआरोप लगाया कि चयन होने से पहले ही कुछ संकुल में संकुल समन्वयक चयन हेतु शासन के नियमानुसार न कर शिक्षा विभाग में पदस्थ कुछ उच्च अधिकारी सारे नियमों को ताक में रखकर अपने मनमर्जी से अलग नियम बनाकर विकासखंड अंतर्गत कुछ संकुल में अपने चहेतों को चयन कर शासन स्तर के चयन प्रक्रिया के नियमों को ठेंगा दिखा दिया है।
जबकि शासन स्तर पर संकुल समन्वयक की चयन प्रक्रिया का नियम यह है कि संकुल स्तर पर संकुल प्रभारी (संबंधित प्राचार्य) के द्वारा संकुल स्तर पर मूल शाला में पदस्थ जहां 2 से अधिक शिक्षक,जो कंप्यूटर या एंड्रॉयड मोबाइल में दक्ष हो, संकुल समन्वयक बनने हेतु इच्छुक उच्च श्रेणी, शिक्षक प्रधान पाठक, शिक्षक एलबी, सहायक शिक्षक एलबी, हो उनसे आवेदन मंगाया जाना है। आवेदन प्रक्रिया पश्चात प्राप्त आवेदनों की उचित जांच कर प्राथमिकता के आधार पर यदि उच्च श्रेणी शिक्षक, प्रधान पाठक यदि दोनों इच्छुक नहीं है, तो शिक्षक एलबी और वह भी इच्छुक नहीं है तब की स्थिति में सहायक शिक्षक एलबी को चयन करना है, लेकिन छुरा ब्लॉक में इस तरह न होकर संबंधित विभाग के अधिकारियों द्वारा कुछ संकुल में अपने चहेतों को लाभ पहुंचाने के लिए सारे नियम- कायदे बदलकर मनमर्जी से अपना नियम बनाकर उच्च वर्ग शिक्षक, प्रधान पाठक, शिक्षक एलबी के रहते प्राइमरी स्कूल में पदस्थ सहायक शिक्षक एलबी का चयन करने के लिए उच्च स्तर पर भेजा गया है। यह सरासर ग़लत है।
ठाकुर ने चयन सूची जारी होने के पहले ही उक्त मामले को गंभीरता से जांच की मांग व जिला मिशन समन्वयक श्री श्याम चंद्राकर की कार्यशैली तथा शिक्षा विभाग में पदस्थ संलिप्त उच्च अधिकारी के प्रति नाराजगी जाहिर कर शिकायत करते हुए उनके विरुद्ध कड़ी से कड़ी कार्रवाई की मांग माननीय अमितेश शुक्ल प्रथम पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री छत्तीसगढ़ शासन विधायक राजिम विधानसभा क्षेत्र व कलेक्टर महोदय जिला गरियाबंद से की है, ताकि भविष्य में इस प्रकार की गलती पुनरावृति ना हो।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!