मुख्यमंत्री बघेल ने प्रदेशवासियों को किया संबोधित, कल से आर्थिक गतिविधियां शुरू करने पर कर रहे विचार

रायपुर. मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने प्रदेशवासियों को संबोधित कर लॉकडाउन का सहयोग करने पर धन्यवाद दिया है. उन्होंने कहा कि आज से ठीक एक माह पहले मैंने कोरोना वायरस से निपटने के लिए सबसे सहयोग मांगा था. इस दौरान मेरे मन में कई आशंकाएं थी. क्योंकि इतने बड़े प्रदेश में करोडों लोगों से उनका आचरण, व्यवसाय, जीवन पद्धति बदलने के लिए कहना और उनका पालन कराना कोई आसान काम नहीं था. लेकिन आपने इसे कर दिखाया. आज छत्तीसगढ़ कोरोना महामारी के नियंत्रण में पूरे देश के समक्ष उदाहरण बना है. इसके मूल में आप लोगों का प्रदेश के लिए त्याग और समर्पण का भाव है. जिसकी वजह से हमें कोरोना से जीत मिली. मैं इन सबके लिए आप लोगों को धन्यवाद देता हूं. सभी चिकित्सकों, स्वास्थ्य कार्यकर्ता, जिला और पुलिस प्रशासन, खाद्य, महिला एवं बाल विकास विभाग, नगर पालिका, जनसंपर्क विभाग, मीडिया, सामाजिक संगठनों का आभारी रहूंगा।

20 अप्रैल से राज्य में आर्थिक गतिविधियां प्रारंभ करने विचार कर रहे हैं. गांवों में मनरेगा के काम शुरू हो गए हैं. आप अपने जिले में क्या कर सकते हैं. ये दिशा निर्देश में बताया जा रहा है. इनका पालन करना सबके लिए जरूरी है।

आपसे निवेदन है कि आप रोज के कामों में पूरी सावधानी बरते. अफवाहों से सवाधतान रहे. प्रदेश में कोरोना को जरूरी नियंत्रित कर लिया है. लेकिन खतार अभी टला नहीं है. हमें अपने राज्य में फैलने का दूसरा अवसर नहीं देना है. अगर आपने फिजिकल डिस्टेंस का पालन किया, लगातार हाथ धोते रहे, भीड़भाड़ से बचे तो कोरोना को राज्य में फिर से फैलने का मौका नहीं मिलेगा।

राज्य में कोरोना को नियंत्रित कर पाए हैं तो गांव की बड़ी भूमिका रही है. छत्तीसगढ़ गांवों का प्रदेश हैं. गांवों में लोगों ने स्वेच्छा से फिजिकल डिस्टेंस एवं साफ-सफाई का पालन किया है. वों अद्भूत था. उनको भी आभार. आज छत्तीसगढ़ की प्रशंसा पूरे देश में हो रही है. रिजर्व बैंक ने हमारी तारीफ की है. कोरोना से लड़ने वाले सभी राज्यों में हम सबसे आगे है. ये सब लोगों के सहयोग से ही हो पाया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!