केवल राजनीति कर रहे भाजपा के नेता, पीएम से कहे वैक्सीन उपलब्ध कराएं: चंद्रप्रभा


बालोद। युवा वर्ग 18+से45 वर्ष को टीकाकरण लगाने के संबंध में भाजपा नेताओं के बयानबाजी पर आपत्ति करते हुए एक विज्ञप्ति में जिला कांग्रेस कमेटी की अध्यक्ष व जिला पंचायत सदस्य चंद्रप्रभा सुधाकर ने कहा कि इस महामारी के दौर में भी भाजपा के नेता केवल और केवल राजनीति कर रहे हैं। प्रदेश सरकार युवाओं के लिए 18 वर्ष से अधिक और 45 वर्ष के नीचे के लोगों को भी कोविड 19 का टीका लगाने की तैयारी कर ली है । कोई भी टीकाकरण से वंचित न रहे इसके लिए वैक्सीनेशन की उपलब्धता सुनिश्चित करना चाहती है। प्रदेश सरकार ने इसके लिए पूरा प्रोसेस कर लिया है। वैक्सिन के लिए ऑर्डर भी कर दिया है और इसके लिए जो फंड लगेंगे उसकी भी व्यवस्था कर ली है ट्रांसफर भी कर दिए है। केंद्र सरकार राज्य के साथ भेदभाव कर रही है पर्याप्त मात्रा में वैक्सीन उपलब्ध नहीं करा रही है इसके कारण अंत्योदय के लोगों को पहले वैक्सीन लगा रहे हैं।लेकिन इन सबके बाद भी छत्तीसगढ़ के भारतीय जनता पार्टी के लोग अपने सरकार को यह समझाने के बजाय कि आपको केवल घोषणा नहीं करनी है,आप को वैक्सिनेशन की उपलब्धता भी सुनिश्चित करनी है। इसके बजाए राजनीति कर रहे हैं।
चंद्रप्रभा सुधाकर ने अनुरोध करते हुए कहा कि मेरा इन बीजेपी के नेताओं से अनुरोध है कि वह अपने पीएम को अपने सरकार को ट्वीट करके यह समझाएं कि हमारी सरकार यहाँ पर हमारे सभी लोगों को वैक्सिन लगना चाहती है। जिसके लिए केंद्र सरकार वैक्सिनेशन की उपलब्धता सुनिश्चित करे। वैक्सीन की एक रेट तय करें।
उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ के सभी संसदो की कार्यप्रणाली शून्यता है। सार्वजनिक हितों में जनता के हित में कोई काम नहीं किए हैं। अपने दलो की बड़ाई करने के अलावा इनके पास कोई काम नहीं है। हमने पिछले साल कोविड संक्रमण के दौरान और इस साल भी इस महामारी के दौरान देखा है। इन सांसदों का ना ही जनता के बीच में उपलब्धता है और ना ही कोई संवाद है। और ना ही ये सांसद आवश्यक मुद्दो पर चर्चा करते है। यही ही यह चाहते ही नहीं हैं कि वव्यवस्था में सुधार हो पाए। इनको तो खुद पर भरोसा भी नहीं है कि यह कर पाएंगे। ये तो अपनी पार्टी में भी अपनी बात नहीं रख पाते। इसीलिए जिला कांग्रेस कमेटी अध्यक्ष ने सभी सांसदों से अनुरोध करते हुए कहा कि आप सब की जिम्मेदारी बनती है कि इस प्रदेश की जनता ने आप को मतदान किया है। आप भी निकलिए, बात कीजिए और केंद्र सरकार का जो रवय्या है वह वैक्सिनेशन से संबंधित समस्या है। उसका समाधान करने में सहयोग कीजिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!