कृषि को समाप्त करना चाहते है केन्द्र की मोदी सरकार-गौतम कुमार साहू

📡 ब्यूरो रिपोर्ट विक्रम कुमार नागेश गरियाबंद

गरियाबंद। आल इंडिया युथ कांग्रेस वर्कस कमेटी के वरिष्ठ कांग्रेस नेता जिला महामंत्री गौतम कुमार साहू ने news24 संवाददाता को कहा कि भारत एक कृषि प्रधान देश है, और कृषि पर करोंडों लोगो की जीवन यापन निर्भर है रोजगार के इस प्रमुख साधन को केन्द्र की नरेन्द्र मोदी सरकार द्वारा सुनियोजित रूप से समाप्त कर इसे आद्योगिक घरानों के हवाले करने के उददेश्य से वर्तमान में तीन कृषि काला कानून लाया गया है, जिससे पुरे देश में हाहाकार मचा हुआ है, दिल्ली के सीमाओं में पिछले तीन माह से किसान अपने जायज मांगों कों लेकर कडाके के ठंड में आंदोलन कर रहे है, कई किसान आंदोलन में शहीद हो गये है, लेकिन केन्द्र के नरेन्द्र मोदी सरकार को किसानों के समस्याओ से कोई लेना देना नही है मोदी सरकार पुरी तरह तानाशाही कर रही है, आज पुरा देश के किसान दिल्ली में आंदोलन कर रहे किसानों के समर्थन में सामने आया है, केन्द्र सरकार को अपनी हटधर्मिता छोडकर तीन काले कानून को तत्काल वापस लेना चाहिए।
श्री साहू ने news24 संवाददाता को कहा कि केन्द्र सरकार कि प्रत्येक योजनाओ में चंद उद्योगपतियों को फायदा पहुंचाने निर्णय लिया जा रहा है, चाहे किसान विरोधी कानून हो या रोजगार उपलब्ध न कराने और छटनी के कारण युवाआें में 45 वर्षो में सबसे अधिक बेरोजगारी की दर हो । पेट्रोल डीजल के दामों में अप्रत्याशीत वृध्दि और एकससाइज डयूटी के कारण महंगाई की मार जनता को पड रही है, हर मोर्चा पर केन्द्र सरकार की धुलमुल नीति के चले देश में तेजी से महगांई बढ रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!