गौरगांव क्षेत्र के समस्याओ को लेकर जिला पंचायत उपाध्यक्ष संजय नेताम ने आठ पंचायत के ग्रामीणाें की बैठक सम्पन्न किया

📡 गरियाबंद से विक्रम नागेश की रिपोर्ट

मैनपुर मक्का के मूल्य वृद्धि के लिए करेंगे क्षेत्र के हजारों किसान आंदोलन,औने पौने दामों पर मक्का बेचने क्षेत्र के किसान हो रहे है मजबूर
आदिवासी विकासखण्ड क्षेत्र के राजापडाव गौरगांव क्षेत्र में 8 ग्राम पंचायत भूतबेड़ा,गोना, अड़गड़ी, शोभा,गरहाडीह, कोकड़ी,गौरगांव,कोचेंगा राजापडाव क्षेत्र के जनप्रतिनिधियों सहित,विकास के लिए संघर्षशील रहने वाले मुखियाओ को आवश्यक बैठक ग्राम मोंगराडीह मे बरगद पेंड़ के नीचे रखा गया, बैठक को संबोधित करते हुए क्षेत्र के वरिष्ठ मुखिया मयाराम नेताम ने कहा कि क्षेत्र के मूलभूत समस्याओं को लेकर कई बार क्षेत्रवासियों के द्वारा शासन प्रशासन के साथ सैद्धांतिक तरीके से आर पार की लड़ाई लड़ी गई, तब कहीं पक्की सड़क,आधा अधूरा बिजली, पुल पुलिया,वन अधिकार पट्टा,स्वास्थ्य,शिक्षा के लिए शासन प्रशासन ने जागा और कुछ सुविधाएं मिली लेकिन आज भी राजापड़ाव क्षेत्रवासी मूलभूत सुविधाओं के लिए मोहताज है, जिसके लिए एक स्वर में आवाज उठाने की जरूरत है, जनपद सदस्य घनश्याम मरकाम ने राजापड़ाव क्षेत्र के किसानों को खुलेआम बाहरी व्यापारियों के द्वारा मक्का के वाजिब दाम शासन प्रशासन के द्वारा तय नहीं किए जाने का मामला उठाते हुए कहा कि पिछले वर्ष मक्का 18 सौ से 22 सौ क्विंटल बिका था, इस वर्ष घटते क्रम में 700 से 1000 क्विंटल हो जाने से क्षेत्र के हजारों मक्का फसल लेने वाले किसान व्यापारी एवं सोसाइटी मे कर्जदार बन जाएंगे, जिसके लिए हम सबको आवाज उठाने का समय आ गई है, पूर्व सरपंच कोचेंगा दिनाचंद मरकाम ने अपने संबोधन में कहा कि हर वर्ष कोई भी वस्तु का बढ़ते क्रम में मूल्य निर्धारण होते आया है, लेकिन इस वर्ष शासन प्रशासन के द्वारा मक्का के मूल्य निर्धारण नहीं किए जाने के कारण क्षेत्र के हजारों किसान अपने आप को ठगा महसूस कर रहा है। ग्राम पंचायत गोना के सरपंच सुनील कुमार मरकाम ने कहा कि धीरे धीरे शासन प्रशासन के द्वारा सरपंचों के वित्तीय पावर को कम किए जाने से चाह करके भी पंचायत क्षेत्रों के गांव में विकास की गति आगे नहीं बढ़ पाएगी।
जिला पंचायत उपाध्यक्ष ने क्षेत्र के लोगो को मुख्यमंत्री से मुलाकात करवाने की बात कही
बैठक में विशेष रूप से शामिल जिला पंचायत उपाध्यक्ष संजय नेताम ने क्षेत्र के मूलभूत समस्याओं को लेकर बहुत जल्द छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री पंचायत मंत्री,प्रभारी मंत्री से क्षेत्र के जनप्रतिनिधियों के साथ सौजन्य मुलाकात करते हुए क्षेत्र के मूलभूत समस्या पुल पुलिया, गोना से गरीबा पक्की सड़क मार्ग चैड़ीकरण,पांचो पंचायत में विद्युतीकरण,शोभा में बैंक शाखा, भूतबेड़ा में हाई स्कूल,मोंगराडीह में बालक आश्रम, शोभा मे प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र का संचालन, शोभा में हायर सेकेंडरी स्कूल, पारा टोला में आंगनबाड़ी केंद्र का संचालन, वन अधिकार पट्टा सहित तमाम मुद्दे को लेकर बहुत जल्द मुलाकात करने की बात कही गई। क्षेत्र के विकास के लिए 8 ग्राम पंचायत के जनप्रतिनिधियों सहित क्षेत्रीय मुखियाओ के अलावा युवाओं को भी एक मंच पर आकर विकास मे भागीदारी सुनिश्चित करने की बात कहीं गई। क्षेत्र के विकास वहाँ के रहवासी ही कर सकते हैं, हमें एक होकर क्षेत्र के विकास के लिए सोचने की नितांत आवश्यक है, क्षेत्र के रहवासियो को विकास के बारे में सोचते हुए एक मंच पर आने की जरूरत भी बताई, बैठक में उपस्थित सर्व किसान राजापड़ाव क्षेत्र के द्वारा पिछले वर्ष की तुलना मे इस समय मक्का के कीमत में भारी गिरावट आने के कारण चिंतित नजर आए, जिसके समाधान के लिए अनुविभागीय अधिकारी राजस्व को लिखित में आवेदन देने की बात कहते हुए मांग किए हैं,कि पिछले वर्ष मक्का1800 सौ से 2000 के बीच में बिक्री हुआ था। इस वर्ष 700 से 1000 क्विंटल के बीच में व्यापारियों के द्वारा खरीदा जा रहा है। जो किसानों के साथ में खुलेआम सौतेला व्यवहार है। शासन प्रशासन के द्वारा मक्का के समर्थन मूल्य तय किया जावे। व्यापारियों को वाजिब दाम में खरीदी करने के लिए बोला जाए। अगर आठ दिवस के अंतर्गत इस मामले का समाधान नहीं किया जाता है। तो क्षेत्र के हजारों किसानों के द्वारा मैनपुर मुख्यालय में पहुंचकर मक्का के वाजिब दाम के लिए शासन प्रशासन के साथ सैद्धांतिक तरीके से आर पार की लड़ाई लड़ी जाएगी, जिसकी जिम्मेदारी शासन प्रशासन की होगी। बैठक में मुख्य रूप से जिला पंचायत उपाध्यक्ष संजय नेताम, जनपद सदस्य घनश्याम मरकाम, पूर्व सरपंच मयाराम नेताम, दीनाचंद मरकाम, सरपंच गोना सुनील कुमार मरकाम, सरपंच अड़गड़ी कृष्ण कुमार नेताम, सरपंच भूतबेड़ा अजय कुमार नेताम, सरपंच कोकड़ी सखाराम मरकाम, सरपंच प्रतिनिधि शोभा तिलक राम मरकाम,सरपंच गौरगांव प्रतिनिधि चीमन कुमार, उपसरपंच शोभा संजय देववंशी, उपसरपंच अड़गडी मंगलू राम मरकाम,मोतीराम,रमेश कुमार, फूलचंद,जामिया राम,जोहर, वैशाख राम मंडावी, गंगाराम मरकाम,शंकरलाल नेताम,सेवक राम,सुखनाथ, छविराम, बुद्धू राम मरकाम,चिंताराम,अमीरचंद सहित सैकड़ों प्रतिनिधि बैठक में शामिल रहे।

error: Content is protected !!