Homeअन्यऊर्जा संरक्षण आधारित प्रशिक्षण कार्यक्रम के तहत् आज रिटेलर ट्रेनिंग प्रोग्राम का...

ऊर्जा संरक्षण आधारित प्रशिक्षण कार्यक्रम के तहत् आज रिटेलर ट्रेनिंग प्रोग्राम का आयोजन


दुर्ग। ब्यूरो ऑफ एनर्जी एफिसेंसी भारत सरकार एवं छत्तीसगढ़ राज्य अक्षय ऊर्जा विकास अभिकरण (क्रेडा) ऊर्जा विभाग छ.ग. शासन के तत्वावधान में ऊर्जा संरक्षण आधारित प्रशिक्षण कार्यक्रम के तहत् आज रिटेलर ट्रेनिंग प्रोग्राम का आयोजन होटल सेंट्रल पार्क सुपेला भिलाई में किया गया। मुख्य अतिथि के रूप में विजय साहू, सदस्य क्रेडा रायपुर उपस्थित रहें एवं अध्यक्षता संजीव जैन, एडवाईजर क्रेडा के द्वारा कार्यक्रम में मार्गदर्शन दिया गया। क्रेडा द्वारा विद्युत उपकरण सामग्री रिटेलरों से डोर टू डोर संपर्क कर इस कार्यक्रम में उपस्थिति हेतु अनुरोध किया गया। उक्त कार्यक्रम में बहुत अधिक मात्रा में रिटेलर एवं उनके प्रतिनिधि उपस्थित हुये। विजय साहू, सदस्य क्रेडा रायपुर द्वारा कार्यक्रम में संबोधन के दौरान कहा गया कि आज के वर्तमान स्थिति में बढ़ती हुई जनसंख्या एवं उनके विद्युत आवश्यकताओं की पूर्ति को कम करने के लिए सबसे पहले जो हम ऊर्जा का उपयोग कर रहे है, उसे किस तरह से संरक्षण किया जाये साथ ही बिजली बचाने के लिए तथा हमारे पास उपलब्ध संसाधन को बहुत समय तक उपयोग करने के लिए ऊर्जा दक्ष उपकरणों का उपयोग एवं नवीनकरणी ऊर्जा जैसे – सौर ऊर्जा श्रोतों का अधिक से अधिक उपयोगों का बढ़ावा देने के उद्देश्य से स्टार रेटेड उपकरण को अधिकाधिक आम जनता तक पहुचाये जाने हेतु विद्युत उपकरण विक्रेताओं से अनुरोध किया गया। श्री संजीव जैन एडवाईजर क्रेडा द्वारा वर्तमान परिस्थिति में ऊर्जा का निरंतर उपयोग एवं भारी मात्रा में हो रहे कार्बन उत्सर्जन के कारण प्राकृतिक आपदाओं, ग्लोबल वार्मिंग जैसे भयानक स्थिति उत्पन्न हो रही है, जिससे बचने के लिए सौर ऊर्जा संरक्षण अधिनियम 2001 तथा संशोधित विधेयक 2022 के तहत् भारत सरकार द्वारा लिये गये निर्णय अनुसार वर्ष 2030 तक भारत में अपरांपरिक ऊर्जा श्रोत की उत्पादकता 500 गीगावाट तक किये जाने का लक्ष्य अनुसार कार्य किया जाना है, भविष्य में ऊर्जा दक्ष उपकरणों की आवश्यकताओं को आम आदमी तक पहुचाने हेतु प्रयास करने के लिए सभी रिटेलरों को जानकारी दी गई। कार्यक्रम के शुभारंभ में श्री भानु प्रताप अधीक्षण अभियंता क्रेडा जोनल कार्यालय दुर्ग द्वारा सभी रिटेलरों को कार्यशाला में उपस्थित होने का अभिवादन करते हुये ब्यूरो ऑफ एनर्जी एफिसेंसी स्टार रेटेड उपकरणों के मापदण्डों तथा स्टार रेटेड उपकरण हमारे लिए क्यों आवश्यक है, इनके बारे मंे विस्तार पूर्वक जानकारी दी गई। क्रेडा प्रधान कार्यालय रायपुर ऊर्जा प्रकोष्ठ से आये श्री निहार रंजन साहू परियोजना समन्वयक द्वारा ऊर्जा संरक्षण अधिनियम में सरकार द्वारा किये गये प्रावधान के बारे में जानकारी दिया गया तथा उपस्थित सभी प्रतिभागियों से फीट-बैक रिर्पोट एवं जागरूकता हेतु प्रश्नोत्तरी कार्यक्रम आयोजित कर आपस में चर्चा किया गया। डॉ. प्रियंका पिचौरा, परियोजना समन्वयक द्वारा रिटेलर कैसे ग्राहक को बस्टार रेटेड उपकरणों का उपयोग कर बिजली की बचत किया जा सकता है। उनके बारे में विस्तार पूर्वक जानकारी दी गई। रोहन चंद पाण्डेय, सहायक अभियंता द्वारा कार्यशाला में उपस्थित रिटेलरों को सभी उपकरणों के बारे में जानकारी देते हुये ब्यूरो ऑफ एनर्जी एफिसेंसी मोबाईल एप के उपयोग एवं स्टार रेटेड उपकरणों को पहचान करने के बारे में विस्तार पूर्वक बताया गया। उक्त कार्यक्रय में टी.आर.ध्रुव, जिला प्रभारी क्रेडा जिला कार्यालय दुर्ग, वर्षा बघेल सहायक अभियंता, नितेश बंछोर सहायक अभियंता, श्रीमती तारिका दामले उप-अभियंता, हरीश श्रीवास्तव उप-अभियंता, विक्की चौधरी उप-अभियंता, सुश्री यामिनी देवांगन उप-अभियंता एवं क्रेडा के अन्य स्टॉफ उपस्थित रहे।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments