Homeअन्यभारी वाहनों की बेलगाम दौड़ पर अंकुश लगाने नगर भाजपा के चक्काजाम...

भारी वाहनों की बेलगाम दौड़ पर अंकुश लगाने नगर भाजपा के चक्काजाम को व्यापारी संघ का समर्थन

उतई दुर्ग ग्रामीण के नगर पंचायत उतई के मध्य में सद्भावना चौक से इंदिरा नगर तक नवनिर्मित गौरवपथ में भारी वाहन अनवरत बेलगाम दौड़ रहे हैं जिससे हर वक्त दुर्घटना का भय बना रहता है कुछ दुर्घटनाएं हो चुकी है जिसमे कुछ लोगों को जान तक गंवानी पड़ी है । जिसे लेकर सुबह 8 से रात्रि 10 बजे तक भारी वाहनों की आवाजाही पर पूर्ण प्रतिबंध लगाने की मांग को लेकर पुलिस प्रशासन एवं स्थानीय नगर प्रशासन को अनेकों बार मौखिक तथा लिखित में अवगत किया जा चुका है।किंतु शासन प्रशासन द्वारा उक्त विषय पर किसी भी प्रकार की कोई भी उचित कार्यवाही अब तक नही की जा रही है खासकर शुक्रवार साप्ताहिक बाजार दिवस पर ज्यादा भय बना रहता है ।फलस्वरूप नगर भाजपा उतई एवं उतई भाजपा मण्डल के तत्वावधान में शासन प्रशासन के इसी अकर्मण्यता के विरूद्ध दिनांक 22 दिसंबर गुरुवार को बाजार चौक उतई में 11.00 बजे से चक्काजाम करने का फैसला लेकर पुलिस प्रशासन को ज्ञापन सौंपा जा चुका है। जिसके समर्थन में व्यापारी संघ उतई ने भी सहमति दर्शाते हुवे अपना समर्थन सौंपा है तथा इसकी जानकारी नगर भाजपा अध्यक्ष को भी दी है साथ ही व्यापारी संघ के व्हाट्सएप ग्रुप में भी दलित राजनीति से ऊपर उठकर इस आंदोलन में जिसमे आमजन का हित निहित है सहयोग करने की बात व्यापारी संघ के अध्यक्ष सतीश पारख ने कही है । उन्होंने बताया की अधूरे निर्मित गौरव पथ का लोकार्पण मंत्री द्वारा किया जाना उनकी झूठी वाहवाही लूटने की पुरानी आदत को उजागर करता है।नाम के गौरव को स्पष्ट करते हुवे उन्होंने कहा की निर्माण के बाद भी व्यापारी और आमजन धूल धक्कड़ से परेशान है जो सड़क के निर्माण की गुणवत्ता को स्पष्ट करता है भ्रष्टाचार से बनी यह सड़क का नाम गौरव पथ कहना ही उतई के गौरव को अपमानित करना है। रोज सुबह से शाम देर रात तक भारी वाहनों की आवाजाही से धूल और दुर्घटना का भय बना रहता है।जिस हेतु अनेक लिखित मौखिक शिकायतों के बाद भी नगर प्रशासन तथा पुलिस प्रशासन के कान पर जूं तक नहीं रेंग रही जिससे दुखी होकर आंदोलन का रास्ता इख्तियार किया गया है।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments