Homeशिक्षापुरुस्कार वितरण के साथ रासेयो शिविर का समापनसमाज व राष्ट्र के प्रति...

पुरुस्कार वितरण के साथ रासेयो शिविर का समापनसमाज व राष्ट्र के प्रति अपने नैतिक कर्तव्यों को समझने का माध्यम है रासेयो —- ब्रह्माकुमार नारायण भाई

छुरा:-समीपस्थ ग्राम पीपरछेडी(जतमईगढ़) में कचनाधुरुवा महाविद्यालय छुरा द्वारा आयोजित राष्ट्रीय सेवा योजना के सात दिवसीय विशेष शिविर का समापन एवं पुरुस्कार वितरण समारोह गत दिवस संपन्न हुआ। प्राचार्य डॉ डी.के. साहू की अध्यक्षता में आयोजित कार्यक्रम के मुख्य अतिथि माउंट आबू राजस्थान से पधारे धार्मिक प्रभाग के कोर्डिनेटर ब्रह्माकुमार नारायण भाई थे। वही ब्रह्माकुमारी अंशु दीदी, एवं ब्रह्मकुमारी जानकी दीदी इंदौर, बी.के. प्रिया बहन नयापारा राजिम,ग्राम सरपंच श्रीमती नीरा बिसहत राम ध्रुव, व्याख्याता व प्रभारी प्राचार्य जोहत राम यादव,ग्राम पटेल गिरधर लाल ध्रुव,उपसरपंच गोविंद यादव, ग्राम समिति अध्यक्ष सुकलाल मरकाम, एवं महिला कमांडो अध्यक्ष पीली बाई यादव बतौर विशेष अतिथि मौजूद रहे। मुख्य अतिथि ब्रह्माकुमार नारायण भाई जी ने दीप प्रज्वलित कर कार्यक्रम का शुभारंभ किया। राजकीय गीत के साथ छत्तीसगढ़ महतारी को नमन कर स्वयं सेवको द्वारा अतिथियों का स्वागत किया ।तत्पश्चात माताओं बहनों के लिए आयोजित ग्रामीण खेल प्रतियोगिता में विजयी प्रतिभागियों का पुरुस्कार वितरण किया गया। मुख्य अतिथि ने सभा में उपस्थित ग्राम वासियों एवं रासेयो स्वयं सेवको को अपने आशीर्वचन में कहा कि राष्ट्रीय सेवा योजना एक माध्यम है, शिक्षित युवाओं को समाज व राष्ट्र के प्रति अपने नैतिक कर्तव्यो को समझने का।समाज से जुड़कर हम अर्जित किए शिक्षा के माध्यम से समाज के अंतिम व्यक्ति की सेवा कर दुआए प्राप्त करे।वही इंदौर मध्यप्रदेश से छत्तीसगढ़ पहुंची ब्रह्माकुमारी जानकी दीदी ने कहा कि युवा शक्ति विश्व – परिवर्तन की आधारशिला है,जिस देश का युवा – वर्ग सन्मार्ग पर चलता है उस देश का भविष्य अति उज्ज्वल होता है।मनुष्य जीवन का स्वर्णिम समय युवाकाल ही है जिसमे वह जिस क्षेत्र में चाहे उस क्षेत्र में प्रगति कर सकता है। वही ब्रह्माकुमारी अंशु दीदी ने व्यसनों, व बुराइयों से दूर रहकर अपनी शक्तियों को सृजनात्मक कार्यों में लगाकर व्यकित्व गुणात्मक बनाने की बात कही। प्राचार्य डॉ साहू ने सभी अतिथियों का आभार व्यक्त करते हुए रासेयो कार्यक्रम अधिकारी एवं स्वयं सेवको के कार्यों की सराहना की व सदा अपने मन में सेवा भाव के साथ समाज के विकास में तत्पर रहने को कहा। कार्यक्रम अधिकारी आर आर कुर्रे व सहयोगी प्राध्यापक तरुण कुमार, निर्मला यादव, विनोद कुमार यादव, कु आरती साहू, पवन कुमार यादव, सुरेंद्र साहू ने सभी अतिथियों का प्रतीक चिन्ह एवं श्रीफल भेंटकर सम्मान किए वही रासेयो स्वयं सेवको द्वारा परियोजना कार्य,दीवाल लेखन,ग्राम संपर्क,स्वास्थ्य मेला, पशु स्वास्थ्य परीक्षण, एवं बौद्धिक परिचर्चा के तहत किए गए कार्यों का ग्राम वासियों ने प्रशंसा किए। व सांध्य कालीन ग्रामवासियों के मनोरजन हेतु ज्ञानवर्धक प्रहसन, एवं छत्तीसगढ़की लोक संस्कृति का मंचन कर जन जागरूकता लाने को कोशिश की गई। कार्यक्रम में पिपरछेड़ी एवं आस पास के गांवों के ग्रामीण जन बड़ी संख्या में उपस्थित रहे।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments