Homeराजनीतिछत्तीसगढ़ सरकार के इस विकास के कॉन्सेप्ट और योजनाओं को दूसरे प्रदेश...

छत्तीसगढ़ सरकार के इस विकास के कॉन्सेप्ट और योजनाओं को दूसरे प्रदेश भी स्वीकार कर लागू कर रहे हैं- युवराज साहू

पाटन। छत्तीसगढ़ के कांग्रेस सरकार एवं मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के सफलतम 4 साल पूरे होने पर एनएसयूआई पाटन ने शासकीय चंदूलाल चंद्राकर महाविद्यालय पाटन क़े परिसर में धूम धाम से 4 साल बेमिसाल के स्लोगन के साथ एनएसयूआई पाटन विधानसभा के सभी साथियों के उपस्थिति के बीच मनाया गया।

एनएसयूआई पाटन विधानसभा अध्यक्ष छात्रनेता युवराज साहू ने कहा कि- आज हम बहुत गौरवान्वित महसूस करते हैं कि हमें ऐसा मुख्यमंत्री मिला। मिट्‌टी से जुड़ा हुआ, आम लोगों से, मजदूरो से लेकर सामान्य से लेकर बड़े व्यापारियों से जुड़े हुए हैं। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल सभी वर्ग के साथ जुड़े हुए हैं। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की सोच का ही नतीजा है कि आज चार साल बेमिसाल बने हैं। पांचवा साल भी बेहतर होगा और पांच साल के बाद भी क्योंकि अगली सरकार भी भूपेश बघेल की ही होगी, साथ ही भूपेश सरकार द्वारा शुरू किए गए स्वामी आत्मानंद अंग्रेजी माध्यम स्कूलों को लेकर कहा कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की इस योजना से गरीब घर के बच्चों को भी उत्कृष्ठ स्कूलों में पढ़ने का अवसर मिल रहा है। आज प्रदेश के हर जिले में स्वामी आत्मानंद स्कूल खुल चुके हैं और आगे इनकी संख्या तेजी से बढ़ाई जा रही है। आत्मानंद स्कूलों के शुरू होने से शासकीय स्कूलों का स्वरूप भी बदला है। छत्तीसगढ़ सरकार के इस कॉन्सेप्ट को दूसरे राज्य भी स्वीकार कर रहे हैं।

इस बीच पूर्व विधानसभा अध्यक्ष छात्रनेता आयुष टिकरिहा ने कहा कि छत्तीसगढ़ के लोगों के लिए गौरव की बात, ऐसा मुख्यमंत्री मिला जो देश और दुनिया में छत्तीसगढ़ का नाम कर रहा है। मुख्यमंत्री के रूप भूपेश बघेल के चार साल बेमिसाल रहे हैं। इनके मुख्यमंत्री बनने से एक भरोसा बना है। भूपेश है तो भरोसा है यह बात ऐसे ही नहीं कहते हैं। उन्होंने मुख्यमंत्री बनने के बाद दिनरात मेहनत की है, उन्होंने अपनी दूरदर्शिता को स्पष्ट किया। लोगों को उनका काम पसंद आया जो पूरे छत्तीसगढ़ में आज दिख रहा है, साथ ही वतर्मान में कान्वेंट स्कूलों का दौर है और गरीब व्यक्ति भी अपने बच्चे को इंगलिश मीडियम में पढ़ाना चाहता है लेकिन आर्थिक स्थिति ठीक न होने से उसकी सपना पूरा नहीं हो पा रहा था, किन्तु छत्तीसगढ़ सरकार की स्वामी आत्मानंद स्कूल योजना ने गरीब व्यक्ति के सपने को साकार किया।

इस बीच प्रमुख रूप से पूर्व विधानसभा एनएसयूआई अध्यक्ष छात्रनेता आयुष टिकरिहा, पाटन विधानसभा एनएसयूआई अध्यक्ष छात्रनेता युवराज साहू, एनएसयूआई पूर्व विधानसभा महासचिव सौरभ वर्मा छात्रनेताओं में बिट्टू साहू, हितेश साहू, डेविड बघेल, बोनू नागवंशी, पिंटू यादव, वासु वर्मा, देवेंद्र वर्मा, होमेन्द्र यदु, देवेंद्र यदु, रितिक वर्मा, कौशल साहू, पंकज साहू, सागर साहू, मोनू साहू, इकेश वर्मा, पंकज यादव, भास्कर चेलक, मोहित देवांगन, योगेंद्र भारती, देवानंद, जयदीप यदु, करण गायकवाड़, अभय गायकवाड़, निमेष ठाकुर, मनीष साहू, प्रशांत देशमुख, दीपेश ध्रुव, योगेश यादव, भूपेश ठाकुर, इस बीच प्रमुख रूप से उपस्थित रहे।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments