Homeअपराधलोहरसिंग विद्यालय मे छात्रों मे खुनी खेल 4 छात्र गंभीर रूप से...

लोहरसिंग विद्यालय मे छात्रों मे खुनी खेल 4 छात्र गंभीर रूप से घायलविवादों का इस विद्यालय से चोली दामन का साथ

हेमंत तिवारी की रिपोर्ट

पांडुका / ओपन स्कूल परीक्षा मे सामूहिक नकल और परीक्षा मे अधिक फिस लेने के कारण हमेशा विवादों मे रहने वाला जिले का एक मात्र शासकीय उचत्तर माध्यमिक लोहरसिंग एक बार फिर छात्रों के गुटों मे हिंसक झड़प को लेकर पूरे जिले मे दिनभर चर्चा का विषय बना रहा बता दे की शनिवार को सुबह की स्कूल लगा था और सभी विद्यालय के बच्चे धुप मे खेल रहे थे ।पर किसी बात को लेकर मार पिट होने लगे और यह विवाद काफी देर तक चलता रहा जिसकी जानकारी हमेशा की तरह इस बार भी शिसको के कान तक नही पहुंची इस बिच किसी ने धार दार चाकू नुमा हथियार से हमला कर दिया और कुछ छात्र लहू लुहान हो गया ।साथ हि एक दूसरे को हमला करने लगे छात्रों ने इट पत्थर आदि से फेक फेक कर एक दूसरे को चोट पहुचा रहे थे ।जिसकी जानकारी शिसको को दी कुछ प्रत्यक्ष दर्शी छात्रों ने बताया की विवाद को शांत करने केवल बंजारे सर हि सामने आय बाकी विद्यालय के अन्यशिक्षक इस लड़ाई को छोड़ने आगे नही आय औरमुक दर्शक बन कर देखते रहे । व इस खुनी खेल को रोक पाने मे पुरी तरह नाकाम विद्यालय प्रबंधन ने पांडुका को पोलीस सूचना दी गई फिर पुलिस के आने से पहले हि ग्रामीणों और पलकों को भिड़ इक्कठी हो गया था जो विद्यालय प्रबंधन और प्रिंसिपल को लेकर भारी आक्रोश था ।इस खुनी लड़ाई मे 4 बच्चे बुरी तरह घायल हो गया था जिसे पुलिस दावरा पांडुका सरकारी अस्पताल मे डाक्टरी मुलाहयजा कराया गया । और जब इस बारे मे विद्यालय के प्राचार्य के ,एल कंवर से फोन पर बात किया गया तो उन्होंने ने किसी शासकीय कार्य से रायपुर मे होना बताया तथा इस मामले की जानकारी नही होना बताया ।ऐसे मे जिम्मेदार प्रिंसिपल को इतनी बड़ी गंभीर मामले की जानकारी नही होना अपने आप मे विद्यालय के लचर व्यवस्था को उजागर करता है । इस घटना को लेकर आसपास के ग्रामो मे और स्कूली बच्चों और पलकों मे अपने बच्चों के पढ़ाई को लेकर भारी आक्रोश है साथ हि ग्रामीणों ने बताया की यहां के विद्यालय ववस्था बहुत हि खराब है ।इन्हे किसी भी प्रकार की जिम्मेदारी नही है ।हाई स्कूल के बच्चों को बीड़ी ,सिगरेट, गुटखा खाते शाला परिसर मे आसानी से देखा जा सकता है साथ हि कुछ बच्चे हमेशा स्कूल टाइम मे इधर उधर घूमते फिरते रहते है ।वाही शिक्षको का विद्यालय आने जाने वा पढ़ाई की स्थिति यहां सही तरह से नही हो पा रहा है । तथा इस घटना से ग्रामीणों मे भारी गुस्सा है । जो आगे चल कर कुुुछ शिक्षको को यहां हटाना चाहते है ।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments